Menu
emblem

प्रयोगशालायें

सुदूर संवेदन और भौगोलिक सूचना प्रणाली प्रयोगशाला

सुदूर संवेदन और भौगोलिक सूचना प्रणाली (जी.आई.एस) के अनुप्रयोग जलविज्ञान और जल संसाधन विकास के क्षेत्र में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। अंतरिक्ष वह आदर्श प्रेक्षण स्थल है, जिससे प्राथमिक अवलोकन किए जा सकते हैं तथा  जिसके माध्यम से अत्यधिक  उपयोगी जानकारी प्राप्त की जा सकती है, जिसका उपयोग विभिन्न जलविज्ञानीय अध्ययनों के लिए इनपुट के रूप में किया जा सकता है। प्रभाग में लोकप्रिय इमेज प्रोसेसिंग और जी.आई.एस सॉफ्टवेयरों से पूर्णतः सुसज्जित एक सुदूर संवेदन और भौगोलिक सूचना प्रणाली प्रयोगशाला है। सुदूर संवेदन और भौगोलिक सूचना प्रणाली तकनीकों का उपयोग करके जल विज्ञान और जल संसाधनों के विभिन्न पहलुओं पर अध्ययन और अनुसंधान करने के लिए संस्थान की  सुदूर संवेदन और भौगोलिक सूचना प्रणाली प्रयोगशाला में आर्क जी.आई.एस, एरडास इमेजिन, आई.एल.डब्ल्यू.आई.एस, ई.एन.वी.आई॰ और आर 2 वी: रैस्टर टू वेक्टर रूपांतरण सॉफ्टवेयर उपलब्ध हैं।

उपलब्ध उपकरण:

प्रयोगशाला के उपलब्ध उपकरण हैं: A0 कलरट्रेक स्मार्ट- एफ  इमेज स्कैनर,

 A0 कैलकोम डिजिटाइज़र, लेज़र कलर प्रिंटर, A0 साइज़ केनन प्लॉटर आदि।

मापन / निर्धारण के लिए प्रयोगशाला क्षमताएँ:

फोटो गैलरी (हाल की गतिविधियों से संबंधित अच्छी गुणवत्ता की 10 तस्वीरें (जे.पी.ई.जी प्रारूप)

प्रभागाध्यक्ष का नाम

डॉ संजय कुमार जैन

पदनाम

वैज्ञानिक ‘जी’

कार्यालय का पता

कमरा  नंबर C-108, लैब ब्लाक, जल विज्ञान भवन, राष्ट्रीय जल विज्ञान संस्थान, रुड़की - 247667 (उत्तराखंड), भारत

दूरभाष

01332-249209

फैक्स

ईमेल

sjain[dot]nihr[at]gov[dot]in